😇 WELCOME USERS ON INFOSHASHIKANT PLATFORM (Founder & Writer MANIKANT KUMAR) माउस क्या है | उपयोग | प्रकार || विस्तार से पूरी जानकारी हिंदी में

Translate

माउस क्या है | उपयोग | प्रकार || विस्तार से पूरी जानकारी हिंदी में

आज यहाँ हम आपलोगों को बतलाने वाले हैं की mouse क्या है , इसके क्या उपयोग है , इनके अविष्कारक कौन हैं | इन सभी बातों से संबंधित आपको हम यहाँ जानकारी देने वाले हैं | अगर आप लैपटॉप या कंप्यूटर में नए हैं तो आपको हम बताते चले की आपको mouse के बारे में जानना बहुत ही महत्वपूर्ण है क्युकी अगर आप माउस के बारे में नहीं जानेंगे तो आप कंप्यूटर या लैपटॉप नहीं चला सकते हैं तो चलिए जानते हैं अपने सवालो के जवाब 👇👇

computer mouse kya hai,input device kya hai,mouse ko kisne banaya,mouse ke bare me jaankari,mouse ko kisne banaya,mouse ke kitne prakar hote hai

    Mouse क्या है - What is mouse in laptop ?

    Mouse एक input device है , जिसे हम pointing device भी कहते हैं | इसके द्वारा हम कंप्यूटर या लैपटॉप में क्लिक करने का कार्य , किसी चीज को open करने का कार्य , किसी फाइल को सेलेक्ट करने का कार्य या हमें लैपटॉप में कही भी क्लिक करना हो हम इसी के द्वारा करते हैं | यानि की हम mouse के द्वारा कंप्यूटर या लैपटॉप को निर्देश करते हैं |

    Computer के mouse का अविष्कार किसने किया ?

    • माउस का आविष्कार Douglas C. Engelbart ने सन 1960 में किया था | 
    • इन्होने सर्वप्रथम mouse को लकड़ी से बनाया था |
    computer mouse kya hai,input device kya hai,mouse ko kisne banaya,mouse ke bare me jaankari,mouse ko kisne banaya,mouse ke kitne prakar hote hai
    Douglas C. Engelbart द्वारा बनाया गया पहला माउस


    आइये थोडा सा हम जानते हैं की input device क्या है 

    Input device क्या है - What is input device ?

    Input device हम उस device को कहते हैं जिसके द्वारा हम किये गए कार्यों को हम छु नहीं सकते हैं बस उसे हम देख सकते हैं , ऐसे ही device को input device कहते हैं | इन device से हम लैपटॉप को कोई कार्य करने का निर्देश देते हैं | 
    इनके कुछ examples निचे दिए गए हैं -------
    • Mouse
    • Keyboard
    • Graphic Tablet
    • Microphone
    • Bar Code Reader
    • Joy Stick
    • Light pen
    • Track Ball
    • Scanner
    • Optical Mark Reader(OMR)
    • Optical Character Reader(OCR)
    • Magnetic Ink Card Reader(MICR)

    20वीं शताब्दी के Mouse का परिचय

    20वीं शताब्दी से चलकर अभी 2021 तक इसी माउस का चलन है जिसका फोटो निचे दिया गया है | यह माउस प्लास्टिक का बना होता है | इसके बारे में आपको कुछ जानकारी निचे दी गयी है ----
    1. इसमें आपको तीन बटन मिलते हैं जिनमे पहले का नाम Left button है , दुसरे का नाम scroll button है और तीसरे का नाम right बटन है |
    2. mouse एक cable द्वारा लैपटॉप या कंप्यूटर से जुड़े रहते हैं |
    3. आज के समय में वायरलेस यानि की बिना cable के भी माउस आने लगे हैं , इसमें आपको transmitter और receiver की जरुरत पड़ती है |
    computer mouse kya hai,input device kya hai,mouse ko kisne banaya,mouse ke bare me jaankari,mouse ko kisne banaya,mouse ke kitne prakar hote hai


    Mouse कितने प्रकार के होते हैं - How many types of Mouse ?

    Mouse को 14 भागो में बाटा गया है जिसमे
    Mouse को मुख्यतः basic type पर पांच भागो में बाटा गया है ---
    • ये basic type कहने का मतलब है की माउस के आविष्कार से लेकर अभी तक के ढांचे में ढलने के लिए माउस को कई विभिन्न चरणों से गुजरना पड़ा तो ये पांच भाग उसी चरण के हिस्सा हैं |
    1. Stylus Mouse
    2. Optical Mouse
    3. Trackball Mouse
    4. Mechanical Mouse
    5. Wireless Mouse
    Mouse को मुख्यतः उनके गुणों के आधार पर नौ भागो में बाटा गया है ---
    1. Trackball Mouse
    2. Gaming Mouse
    3. Vertical Mouse
    4. Track-point Mouse
    5. Foot Mouse
    6. Wired Mouse
    7. Laser Mouse
    8. BlueTrack Mouse
    9. Touchpad
    इसे भी पढ़े

    1. Stylus Mouse

    • इस प्रकार के माउस को gStick माउस कहते हैं 
    • gStick में g का मतलब Gordon Stewart है जो की इस माउस के आविष्कारक हैं
    • यह माउस एक पेन की तरह दिखाई देता है जिसमें एक पहिया होता है जिसे सरका के लैपटॉप को निर्देश दिया जाता है
    • इसका उपयोग Touchscreen devices में अधिक किया जाता है |

    2. Optical Mouse

    • इस माउस में LED बल्ब होता है जो की signal processing के आधार पर काम करता है
    • जब हम इस माउस को हिलाते डुलाते हैं तो LED बल्ब के हिलने डुलने से अन्दर मशीन को signal मिलता है और उसी के आधार पर कंप्यूटर में पॉइंटर घूमता है 
    • आजकल इसी माउस का प्रयोग हमलोग करते हैं
    • यह usb cable द्वारा लैपटॉप या कंप्यूटर से जुड़ा रहता है जिसके कारन इस माउस की बिजली आपूर्ति लैपटॉप के बैटरी से ही हो जाती है 
    • इस कारन इसे बैटरी की आवश्यकता नहीं पड़ती है

    3. Trackball Mouse

    • इस माउस का नियंत्रण trackball के द्वारा किया जाता है 
    • इसमें आपको अपने हाथ से इस माउस के trackball को घुमाकर लैपटॉप को निर्देशित करना होता है
    • इस माउस को ज्यादा नियंत्रित कर नहीं चलाया जा सकता है , इसलिए इसे चलाने में ज्यादा समय हमें लगता है |

    4. Mechanical Mouse

    • इसका आविष्कार Bill English ने किया
    • इस माउस को ball mouse भी कहते हैं
    • इसमें आपको एक ball मिलता है जिसे आप ऊपर-निचे या दाये-बाये घुमाकर लैपटॉप को निर्देश दे सकते हैं

    5. Wireless Mouse

    • यह optical माउस की तरह ही है लेकिन इसमें आपको usb cable की आवश्यकता नहीं पड़ती है
    • इस माउस को चलाने के लिए आपको transmitter और receiver की जरुरत पड़ती है
    • transmitter जो की माउस में पहले से ही स्थित होता है और receiver आपको अलग से मिलती है जिसे आप अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में लगाना होता है
    • इस माउस को चलाने के लिए आपको बैटरी की आवश्यकता पड़ती है |
    computer mouse kya hai,input device kya hai,mouse ko kisne banaya,mouse ke bare me jaankari,mouse ko kisne banaya,mouse ke kitne prakar hote hai

    Mouse पॉइंटर के विभिन्न रूप और उनके मतलब क्या हैं ?

    आपने ऊपर माउस के बारे में तो जान लिया है लेकिन याद करे की माउस को जब आप हिलाते या डुलाते है तो आपके लैपटॉप में छोटा तीर जैसा पॉइंटर हिलता डुलता है 

    इसे भी पढ़े

    इसमें थोडा और याद कर के ध्यान देंगे तो आप देखेंगे की अलग अलग स्थान पर पॉइंटर अपना अलग अलग रूप भी बदलता है लेकिन आप सोच रहे होंगे की इन अलग अलग रूप क्या है और इनका क्या मतलब होता है तो इन्ही सब सवालो का जवाब आपको निचे फोटो 👇👇 में मिलेगा
     

    computer mouse kya hai,input device kya hai,mouse ko kisne banaya,mouse ke bare me jaankari,mouse ko kisne banaya,mouse ke kitne prakar hote hai

    Mouse के कार्य क्या हैं - What is work of mouse ?

    माउस के द्वारा हम कई सारे कार्य करते हैं और किया जाता है | लेकिन इन सभी क्रियाओ को किया कैसे जाता है और ये कैसे काम करते है आइये जानते हैं उनके बारे में

    1. Scrolling करना

    • माउस द्वारा हम अपने लैपटॉप में किसी बड़े डाक्यूमेंट्स को ऊपर से निचे जाने के लिए स्क्रॉल करते हैं जिसे स्क्रॉलिंग कहा जाता है |
    • जब भी हम इन्टरनेट चला रहे होते हैं या कोई बड़ा फाइल open किये हुए रहते हैं तो उनको ऊपर से निचे जाने के लिए माउस से स्क्रॉल किया जाता है |
    • इसके लिए आपको माउस के बीच में जो वृताकार बटन दिया हुआ होता है उसे आपको गोले गोले घुमाना पड़ता है |

    2. Pointing करना

    • जब हम पॉइंटर को अपने लैपटॉप में किसी फाइल या folder या icon के पास ले जाते हैं तो वहां पर उस फाइल या फोडर या icon का details दिखने लगता है जिसे pointing कहा जाता है |
    • पोइंटिंग में आपको उस फाइल का नाम , साइज़ और फॉर्मेट दिखता है |

    3. Selecting करना

    • जब हम कंप्यूटर में किसी फाइल या folder या icon पर एक बार left click करते हैं तो वह फाइल सेलेक्ट हो जाता है जिसे हम सेलेक्टिंग कहते हैं 
    • आपके द्वारा सेलेक्ट किया गया फाइल रंगीन हो जाता है

    4. Dragging and dropping करना

    • जब हम किसी फाइल या folder या icon को एक जगह से खीचकर दुसरे जगह पर ले जाकर छोड़ देते है तो यही प्रक्रिया dragging and dropping कहलाती है
    • इस प्रक्रिया के अंतर्गत आप कोई भी फाइल पर left क्लिक करे रहिये और अपने माउस को हिलाते हुए किसी folder के पास ले जाकर छोड़ दीजिये , इससे वो फाइल वहां से हटकर उस folder में चला जायेगा जहाँ पर आपने छोड़ा था इसी को dragging and dropping कहते हैं |

    5. Click करना 

    👉Click करने के अंतर्गत ये दो प्रकार का होता है

    1. Left click :--- माउस में left button को क्लिक करना ही left click या click कहलाता है |
    • Single click इसके अंतर्गत ही आता है इसका मतलब यह होता है की किसी फाइल या folder या icon पर एक बार left click या click करना | इसके द्वारा आप किसी फाइल को सेलेक्ट या किसी लिंक को खोलना या taskbar में उपस्थित किसी प्रोग्राम को खोलना या किसी menu को open करने का कार्य करते हैं
    • Double click इसके अंतर्गत ही आता है इसका मतलब यह होता है की किसी फाइल या folder या icon पर दो बार तुरंत click करना | इसके द्वारा आप लैपटॉप के स्क्रीन पर उपस्थित किसी प्रोग्राम को खोलना या किसी भी folder , icon को खोल सकते हैं या किसी text को सेलेक्ट कर सकते हैं |
    2. Right click :--- माउस में right button को क्लिक करना ही right click कहलाता है |
    • इसके द्वारा आप किसी फाइल पर क्लिक कर बहुत सारे ऑप्शन ला सकते हैं 
    • अगर आप इन्टरनेट चला रहे हो तो किसी लिंक या फोटो पर इस क्लिक को करेंगे तो आपको बहुत सारे ऑप्शन मिलते हैं 
    • यानि की एक तरह से कह सकते है की right click ऑप्शन लाने का कार्य करता है

    निष्कर्ष

    यहाँ हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से आपलोग जरुर समझ गए होंगे की माउस क्या है , कितने प्रकार का है , इनके जनक कौन है , पॉइंटर के मतलब क्या होते हैं और माउस से क्या क्या कार्य होते हैं | अगर आपलोगों ने इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक शुरू से अंत तक पढ़ लिया होगा तो मेरा विश्वास है की आपलोगों को इन सभी प्रश्नों से संबंधित जवाब के उत्तर में कोई दिक्कत नहीं हुई होगी | I hope ये आर्टिकल आपलोगों को पसंद आया होगा |

    यदि आपको हमारा post अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के पास शेयर जरुर करियेगा एवं कमेंट करना ना भूलेऔर हमारे वेबसाइट के notification को ऑन कर लीजियेगा ताकि आपको इसी तरह की नयी और बेस्ट जानकारी आपको मिलते रहे 😊😊
    Tags

    Post a Comment

    0 Comments
    * Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

    Top Post Ad

    Below Post Ad